Vivo किस देश की कंपनी हैं और इसका मालिक कौन हैं - 2021

Vivo किस देश की कंपनी हैं और इसका मालिक कौन हैं

नमस्कार स्वागत हैं, आपका Eachhow हिंदी ब्लॉग में. मेरा नाम विक्की शर्मा हैं. आज के पोस्ट में जानेंगे Vivo किस देश की कंपनी हैं. अगर आप एक वीवो स्मार्टफोन यूजर हैं, तो ये पोस्ट आपके लिए हैं, क्योंकि इस पोस्ट में आपको वीवो कंपनी से संबंधित जानकारी आपको डिटेल में दी जायेगी. आज आपको Vivo किस देश की कंपनी हैं और इसका मालिक कौन हैं. इसके बारे में बताऊंगा. इसके अलावा वीवो कंपनी के इतिहास में बारे में बताया जायेगा. 

ज्यादातर लोग वीवो का मोबाइल इसीलिए उपयोग करते हैं, क्योंकि उनको केवल कैमरा से मतलब होता हैं. इसके अलावा अन्य फीचर से मतलब नही होता हैं. यदि आप एक वीवो का स्मार्टफोन लेने की सोच रहे हैं, तो आपके लिए हेल्पफुल साबित हो सकता हैं. क्योंकि कुछ लोग को चीन का फ़ोन लेना पसंद नही होता हैं. ऐसे में आपको जान लेना चाहिए Vivo किस देश की कंपनी हैं. इसके अलावा आप अच्छे से समझ पाएंगे आपको किस देश का फ़ोन लेना चाहिए, तो आईये जानते हैं. 

Vivo किस देश की कंपनी हैं?

अगर आप चीनी फ़ोन्स को पसंद नही करते हैं, तो वीवो आपके लिए नही हैं, क्योंकि वीवो कंपनी चीन देश का हैं. इसके अलावा वीवो के सभी फ़ोन्स में पार्ट्स का इस्तेमाल चीन देश का ही होता हैं. वीवो कंपनी का मुख्यालय Dongguan, ग्वांगडोंग, चीन में स्थित हैं. इसके अलावा BBK Electronics कंपनी भी एक चाइनीज कंपनी हैं. बी बी के इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी television set, digital camera mp3 player और smartphone जैसे electronic filed में विशेष जानकारी रखता है. 

Vivo कंपनी क्या हैं?

Vivo कंपनी क्या हैं?
वीवो BBK Electronics Company की Parent कंपनी हैं. इसके साथ वीवो एक स्वतंत्र कंपनी भी हैं. वीवो स्वतंत्र कंपनी होने के साथ - यह एक मोबाइल कंपनी निर्माता भी हैं. वीवो मोबाइल के साथ - साथ ऑनलाइन सर्विस, एक्सेसरीज और सॉफ्टवेयर भी बनाती हैं. वीवो के मोबाइल्स में वीवो कंपनी द्वरा ही सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया जाता हैं. वीवो के फ़ोन्स में Funtouch OS नाम का सॉफ्टवेयर उपयोग किया जाता हैं. Funtouch OS को वीवो कंपनी ने ही बनाया हैं और इसे वीवो के सभी फ़ोन में इनस्टॉल करते हैं. 

Vivo कंपनी का मालिक कौन हैं? 

वीवो कंपनी के संस्थापक और मालिक शेन वेई हैं. इसके अलावा बी बी के इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी का मालिक डुआन योंगपिंग हैं. शेन वेई कंपनी के अलावा शेन वी वीवो कंपनी के CEO भी हैं. Oneplus, Vivo, oppo, realme और IQOO BBK Electronics कंपनी के brand कंपनी हैं. इसके साथ बी बी के इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी इलेक्ट्रॉनिक इंडस्ट्री से हैं और यह सभी फिल्ड में अपना प्रोडक्ट बनाती हैं. इसके अलावा BBK Electronics कंपनी का headquarters Dongguan, ग्वांगडोंग में स्थापित हैं. 

Vivo कंपनी का इतिहास

वीवो कंपनी का स्थापना 2009 में हुआ था, लेकिन उस वीवो केवल domestic स्तर पर मोबाइल बेचा करते थे. सभी देश में फ़ोन बेचने के लिए कंपनी ने 2014 से शुरू किया. 2014 में वीवो कंपनी ने 7 देशों में अपना मोबाइल बेचना शुरू कर दिया. उन देश का नाम Philippines, Malaysia, India, Indonesia,  Myanmar,  Thailand, और Vietnam हैं. 

7 देशों के बाद कंपनी ने फिर से 2017 में 10 देशों में प्रवेश करना शुरू कर दिया हैं, जिसका नाम Sri Lanka, Macau, Laos, Russia, Taiwan, Hong Kong, Brunei, Cambodia, Bangladesh, और Nepal हैं. इन देश में प्रवेश करने के बाद june

2017, में ही pakistan बाजार में प्रवेश कर लिया. 26 नवंबर 2017 को वीवो कंपनी ने nepal बाजार के लिए Y53 और Y65 मॉडल को लॉन्च कर दिया. 

Vivo Y53 में 2GB RAM और 16 GB स्टोरेज मौजूद था. इसके डिस्प्ले के लिए इसमें 5 इंच का डिस्प्ले था और बैटरी 2500 mAh था. इसके अलावा इसमें 8MP रियल कैमरा और 5 MP फ्रंट कैमरा था. इन सब को हैंडल करने के लिए स्नैपड्रैगन 425 प्रोसेसर मौजूद था. 

Vivo Y65 में Vivo Y53 से ज्यादा स्पेसिफिकेशन हैं. इसमें 3000 mAh बैटरी, 3GB रैम, 16GB स्टोरेज, 13MP रियल, 5MP फ्रंट और 5.5 इंच का डिस्प्ले मौजूद था. 

उसके बाद वीवो कंपनी ने अक्टूबर 2020 को निर्णय लिया वह अपने फ़ोन्स को यूरोप मार्केट के लिए भी लॉन्च करेंगे. अब से यूरोप के बाजार में भी वीवो के फ़ोन्स देखने को मिलेंगे. 

वीवो मोबाइल लेने के फायदे

  • वीवो मोबाइल का कैमरा बेस्ट होता हैं. 
  • वीवो मोबाइल में Funtouch OS का इस्तेमाल अच्छे तरीके से किया गया हैं. 
  • Funtouch OS काफी लाइटवेट ऑपरेटिंग सिस्टम हैं. 
  • वीवो मोबाइल का बैटरी बैकअप अच्छा हैं. 

वीवो फ़ोन लेने के नुकसान

  • वीवो मोबाइल में प्रोसेसर बहोत लौ लगाया जाता हैं. 
  • इसमें आप हाई ग्राफ़िक्स वाला गेम नही खेल सकते हैं. 
  • फ़ोन का परफॉरमेंस आपको अच्छा नही मिलेगा. 
  • वीवो के फ़ोन्स दुसरो के मुकाबले थोड़े महंगे होते हैं. 
  • प्राइस के हिसाब से इसमें बहोत कम स्पेसिफिकेशन मिलते हैं. 
  • वीवो का फ़ोन्स वैल्यू फ़ॉर मनी नही होता हैं. 

NOTE :- ये फायदे और निशान केवल वीवो के mid rang स्मार्टफोन के बारे में बताया गया हैं. अगर आप इनके फ्लैगशिप डिवाइस लेते हैं, तो आपको बेस्ट परफॉरमेंस मिल सकता हैं, लेकिन उसी प्राइस में आपको दूसरे कंपनी का फ़ोन अच्छा मिल जायेगा. 

आज आपने क्या सीखा

आज आपने सीखा Vivo किस देश की कंपनी हैं, Vivo कंपनी का मालिक कौन हैं और इसका इतिहास. इसके अलावा आपने जाना वीवो के फ़ोन लेने फायदे और नुकसान. मैं आशा करता हूँ, आज की दी गई जानकारी से आपको फायदा हुआ होगा. यदि आपको केवल कैमरा से मतलब हैं, तो वीवो का फ़ोन ले सकते हैं और जिनको best सभी फीचर्स चाहिए, वो कोई और मोबाइल को ले. अगर आपको यह जानकारी पसंद आया, तो अपने सभी दोस्तो के साथ इसे शेयर करे. इससे संबंधित आपका कोई प्रश्न हैं, तो नीचे कमेंट कर सकते हैं. मैं उसका उत्तर जरूर दूंगा. 

Thank You. 


0/Post a Comment/Comments