Motorola किस देश की कंपनी हैं और इसका मालिक कौन हैं - 2021

Motorola किस देश की कंपनी हैं और इसका मालिक कौन हैं
नमस्कार स्वागत हैं, आपका Eachhow हिंदी ब्लॉग में. मेरा नाम विक्की शर्मा हैं. आज के पोस्ट में जानेंगे Motorola किस देश की कंपनी हैं. अगर आप एक मोटोरोला की स्मार्टफोन लेने की सोच रहे हैं और आपको नही पता हैं, Motorola किस देश की कंपनी हैं और इसका मालिक कौन हैं. तो आप इस पोस्ट को ध्यान से पढ़े. 

इस पोस्ट को पढ़ने के बाद मोटोरोला कंपनी से संबंधित सभी जानकारी आपको प्राप्त हो जायेगा. इसके अलावा मैं आपको बताऊंगा मोटोरोला कंपनी का फ़ोन लेना चाहिए या नही. क्योंकि कुछ लोग बिल्कुल सिंपल स्मार्टफोन लेना पसंद हैं, तो आईये विस्तार से समझते हैं, Motorola किस देश की कंपनी हैं

Motorola क्या हैं?

Motorola क्या हैं?
किसी भी कंपनी का फ़ोन लेने से पहले आपको उसके सर्विस के बारे में जरूर जान लेना चाहिए. यह आपको एक बेस्ट फ़ोन लेने में मदद कर सकता हैं. मोटोरोला एक मोबाइल कंपनी हैं. मोटोरोलान न केवल मोबाइल बनाती हैं, बल्कि सभी इलेट्रॉनिक छेत्र के लिए उपलब्ध हैं. एक यूजर को गैजेट में जिस प्रोडक्ट का जरूरत होता हैं, मोटोरोला सभी प्रोडक्ट छेत्र में मौजूद हैं. 

मोटोरोला कंपनी मोबाइल बनाने के साथ - साथ मोबाइल फ़ोन्स, वायरलेस ब्रॉडबैंड नेटवर्क, कंप्यूटर, RFID सिस्टम, टेबलेट, नेटवर्किंग सिस्टम, टेलीविज़न, स्मार्टफोन्स और केबल टेलीविज़न सिस्टम भी बनाती हैं. यह कंपनी ऑलमोस्ट सभी इलेक्ट्रॉनिक छेत्र में स्थित हैं. मोटोरोला एक कंपनी होने के साथ - साथ इसका services भी काफी बेहतर हैं. फ़ोन में किसी भी प्रकार के लिए आप इनके सर्विस सेंटर में विजिट कर सकते हैं. यहाँ आपकी प्रॉपर हेल्प की जायेगी, वो भी बहोत कम समय में. 

Motorola किस देश की कंपनी हैं?

अगर आप चीन देश का फ़ोन नही लेना चाहते हैं, तो यह आपके लिए बेस्ट साबित हो सकता हैं. क्योंकि यह चीन की नही, बल्कि मोटोरोला एक अमेरिकन कंपनी हैं और इसका मुख्यालय शाउमबर्ग, इलिनोइस में हैं. हालांकि इस कंपनी को लेनोवो कंपनी ने खरीद लिया हैं, जो एक चीन देश की कंपनी हैं. 

लेकिन मोटोरोला कंपनी की starting एक अमेरिकी कंपनी के रूप में हुआ था. मोटोरोला कंपनी में कई प्रोडक्ट की बिक्री की जाती हैं, तो उसके लिए कंपनी में 53 हज़ार से भी कर्मचारी काम करते हैं. किसी भी कंपनी के लिए ये संख्या ज्यादा होता हैं. इसके अलावा इस कंपनी की स्थापना 1928, 25 September को हुआ था. 

Motorola कंपनी का मालिक कौन हैं?

मोटोरोला कंपनी का मालिक दो हैं और 4 व्यक्ति कंपनी के मुख्य व्यक्ति हैं. मोटोरोला कंपनी का मालिक का नाम मालिक पॉल और जोसेफ गैल्विन हैं. इसके अलावा 4 मुख्य व्यक्ति का नाम गीनो बोनानोटे, शमिक मुखर्जी, ब्रायन लोपेज़ और महेश सप्तऋषि हैं. इन सब के अलावा भी बॉब गैल्विन कंपनी के CEO हैं और ये पॉल बेटे हैं. इनका जन्म 1922, को 9 अक्टूबर हुआ था. 

  • पॉल और जोसेफ गैल्विन मोटोरोला कंपनी के मालिक हैं. 
  • गीनो बोनानोटे मोटोरोला कंपनी के CFO हैं. 
  • ब्रायन लोपेज़ मोटोरोला कंपनी के CEO & डायरेक्टर हैं. 
  • शमिक मुखर्जी मोटोरोला कंपनी के CMO हैं. 
  • महेश सप्तऋषि मोटोरोला कंपनी के CTO हैं. 

Motorola कंपनी का इतिहास

मोटोरोला ने अपनी कंपनी की शुरुआत महज़ 5 कर्मचारी से शुरू किया था. इस कंपनी को एक रेंट के छोटे से कमरे में दुकान को स्थापित किया था. इसके साथ कंपनी की शुरुआत पहले Manufacturing corporation के रूप में हुआ था, जो शिकागो, इलिनोइस में स्थित हैं. 1928 में मोटोरोला कंपनी ने रेडियो के लिए एक बैटरी एलमिनेटर बनाया था, लेकिन वह सक्सेस नही हो पाया. लोगो ने बैटरी एलमिनेटर का यूज़ अपने घरों के बिजली शुरू कर दिया. 

1930 में कंपनी ने मोटोरोला रेडियो के नाम से कार रेडियो बनाया था, जो काफी सक्सेस हुआ था. इस रेडियो के वजह से कंपनी ग्रो होने लगी. मोटोरोला रेडियो बहोत ज्यादा सक्सेस होने की वजह से गैल्विन ने कंपनी का नाम बदलकर मोटोरोला रख दिया. इसके साथ कंपनी मोटोरोला नाम का trademark भी अपने नाम कर लिया. 

आगे चलकर कंपनी ने 1940 में वॉकी - टॉकी लॉन्च किया, जो 2nd वर्ल्ड वॉर के समय अमेरिकी सेना ने इस्तेमाल किया था. एक समय ऐसा आया, जिसमें मोटोरोला कंपनी ने नासा को अपना इक्यूपमेंट प्रदान करने लगा और 1969 में motorola receiver से पृथ्वी पर संदेश भेजा गया. 

मोटोरोला कंपनी ने 1973 में पहला फ़ोन launch किया, जिसका नाम डायनाटेक 8000X था. कंपनी ने फ़ोन के साथ - साथ क्लैमशेल डिजाइन भी मोबाइल लॉन्च करना शुरू कर दिया. मोटोरोला कंपनी ने क्लैमशेल डिजाइन का स्टार्टिंग 1996 में किया था और 2000 में मोटोरोला वर्ल्ड का no1 कंपनी बन गई. 

कंपनी ने 2004 में वी3 नाम से फ़ोन लॉन्च किया, जिसमें क्लैमशेल डिजाइन का इस्तेमाल हुआ था. इसके बाद कंपनी ने कुछ प्रोडक्ट लॉन्च किए, जो ज्यादा सक्सेस नही हुआ. फिर कंपनी को घाटा लगना शुरू हो गया. 4 मई 2004 को मोटोरोला दो भागों में विभाजन हो गया. 

  1. मोटोरोला मोबिलिटी
  2. मोटोरोला सोल्यूशंस 

उसके बाद गूगल ने 22 मई 2012 को मोटोरोला मोबिलिटी 12.5 मिलियन डॉलर में खरीद लिया और 29 जनवरी 2014 को लेनोवो ने गूगल से मोटोरोला मोबिलिटी को 2910 करोड़ अमेरिकी डॉलर में खरीद लिया. लेनोवो एक चीनी कंपनी हैं. मोटोरोला कंपनी का शुरुआत कुछ इस तरीके से हुआ था और अब मार्केट में कंपनी ने पकड़ बनाना शुरू कर दिया हैं. 

आज आपने क्या सीखा

आज आपने सीखा Motorola किस देश की कंपनी हैं, Motorola कंपनी का मालिक कौन हैं और इसका इतिहास क्या हैं. मुझे उम्मीद हैं, आज की गई जानकारी से आपको काफी लाभ मिल होगा. आज दी गई जानकारी आपको अच्छा लगा लगा, तो आप इसे सभी के साथ जरूर करे और उनके भी शेयर करे, जो मोटोरोला कंपनी के बारे में नही जानते हैं. 

इसके अलावा आपका कोई सवाल हैं, तो आप नीचे पूछ सकते हैं. मैं आपका जवाब देने की कोशिश करूंगा. इसके अलावा मोटोरोला को लोग मोटो के नाम से भी जानते हैं. यदि जानकारी पसंद आई, तो शेयर और कमेंट जरूर करे. 

Thank You.

0/Post a Comment/Comments